कही आपके नाम से फर्जी SIM Card तो नही चल रहा है।Online check करे

अब आप घर बैठे पता लगा सकते है कि आपके नाम पर कितने सिम कार्ड एक्टिवेट है।क्योंकि SIM CARD की मदद से कई तरह के फ्रॉड होते रहते है। स्कैमर्स किसी दूसरे व्यक्ति के नाम पर सिम जारी करवा लेते है।और जिसकी आईडी से सिम कार्ड एक्टिवेट हुआ है उस व्यक्ति को पता ही नही चलता है।की उसकी आईडी से जो सिम चल रहा है। उससे फ्रॉड किया जा सकता है।तो इसलिए आप को घबराने कि बात नही है आप इसको घर बैठे Online Check कर सकते है।और फर्जी Activate हुए सिम को तुरंत बंद करवा सकते है।इसके लिए आपका  मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।तभी आप अपने SIM Card से संबंधित जानकारी पा सकते है।


Buy sim Card

पहले सिम कार्ड बिना आधार कार्ड के मिल जाता था।उस समय किसी कॉलेज की ID या,वोटर आईडी ,या किसी नेशनल आईडी से सिम कार्ड मिल जाता था।लेकिन आज के समय में सिम कार्ड बिना आधार कार्ड से नही लिया जा सकता ।फिर भी आज के समय मे Scammer नए तरीके लेकर आ जाते है।और आपके फर्जी Documents से  सिम कार्ड निकलवा लेते है। ऐसे में बेहद जानना जरूरी है की आपके नाम कितने सिम कार्ड एक्टिवेट है।


कई बार हमे लगता है कि हमारे नाम से कोई दूसरा सिम कार्ड इस्तेमाल तो नही कर रहा है? अगर आपको भी ऐसा लगता हैं तो परेशान होने की जरूरत नही है क्योंकि आप मिनटों में पता लगा सकते है कि आपके नाम से कितने सिम कार्ड एक्टिवेट है.




फ्रॉड से कैसे बचें 

दरअसल,कई बार आपको पता नही होता कि आपकी आईडी (आधार कार्ड)पर कितने सिम चल रहे है वही कई बार फ्रॉड किसी की भी आईडी से सिम ले लेते है।और गैर कानूनी कामों को अंजाम देते है। इससे जिसके नाम पर सिम है उसके लिए मुश्किल पैदा हो जाती है।


आज के समय में Dual और Tripal Sim के Smartphone बाजार में उपलब्ध है। इसी के साथ हर टेलीकॉम कंपनी के अपने अपने खास प्लान है। ऐसे में एक से ज्यादा सिम होना आम बात हो गई है।लेकिन नई सिम लेने से पहले कुछ ऐसी बाते है जिन्हे ध्यान में रखना जरूरी है।
ध्यान न रखने पर कई बार हमे परेशानियों से भी जूझना पड़ता है।
 


ऐसे में सिम खरीदते समय आपको बेहाद सावधान रहने की आवश्यकता है।


कुछ महत्वपूर्ण बिंदु


1. DUCUMENTS:-सिम खरीदते समय आईडी और Address proof की फोटो कॉपी दुकानदार को या एजेंट को ऐसे ही न दे ।बल्कि उस पर (सिम कार्ड खरीदने हेतु )लिख कर नीचे साइन कर दे। इससे आपके दस्तावेज का कभी मिस यूज नहीं हो पाएगा।


2.Pre-Activated SIM:- अगर सिम कार्ड का पैकेट पहले से खुला है, तो ऐसा सिम कभी न ले क्योंकि ऐसा सिम पहले से एक्टिवेट किया हुआ हो सकता है। ध्यान रखे सिम कार्ड Pre Activated नही होना चाहिए। हमेशा अपने सामने ही पैकेट खुलवाकर सिम खरीदे।


3. Bio-Metric:-सिम कार्ड खरीदते समय दुकानदार बायोमेट्रिक करवाता है ऐसे में यह ध्यान रखे की आपसे वह फर्जी सिम तो नही निकाल रहा है।क्योंकि  अगर आप BioMetric लगाते है तो मुश्किल से एक वार Bio Metric की जरूरत होती है।


4. Buy Authorised Store:भारत में Jio,Airtel, Vodafone,Idea, Relience और BSNL जैसी कंपनियां ढेर सारे Offer देती हैं।इस कारण लोग बहुत सिम ले लेते हैं।और कही से भी खरीद लेते है।हमेशा सिम कार्ड किसी प्रमाणित जगह से ही खरीदे।क्योंकि किसी भी लोकल जगह से सिम कार्ड खरीदने पर आपके Document का गलत उपयोग हो सकता है। अकसर देखा जाता है। कि सिम बेचने वाले आपके डॉक्यूमेंट में दूसरे को सिम कार्ड इश्यू कर देते है।जिससे की  criminal घटना होने पर आपको दोषी करार दिया जायगा।बेहतर होगा की सिम कार्ड हमेशा स्टोर से ही खरीदे।



5. Televerification Required:-सिम कार्ड मिलने के बाद 4 घंटे के अंदर सिम कार्ड में नेटवर्क आ जाता है।उसके बाद आपके Alternate नंबर पर OTP आ जाएगी।उसमे आपका Televerifation Pin मिलेगा।तब आपको Televerifiaction करना होता है।जैसे वेरिफिकेशन हो जाता है । तो आपका सिम चालू हो जायेगा। नया सिम कार्ड लेते समय आपको Tele Verification जरूर करना चाहिए। टेली वेरिफिकेशन में आपके डॉक्यूमेंट का मिलान किया जाता हैं
 



क्या कहता है TRAI का नियम/ WHAT IS TRAI RULE


भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) के नियमानुसार एक व्यक्ति के आधार  कार्ड पर केवल 18 Sim ही जारी की जा सकती है।बिना वेरिफिकेशन कराए गए सिम को तत्काल बंद कर दिया जायेगा।


TRAI ने सिम यूजर को यह सुविधा दे रखी है की आधार कार्ड से कितने सिम कार्ड एक्टिव है यह जानकारी आप घर बैठे ऑनलाइन ही पता कर सकते हैं इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए TRAI ने आनलाइन पोर्टल लांच किया हुआ है।


इस पोर्टल के माध्यम से आप कुछ ही प्रक्रिया के द्वारा आसानी से पता कर पाएंगे की एक आधार कार्ड पर कुल कितने सिम कार्ड रजिस्टर्ड है।तथा इस मोबाइल नंबर में से कितने ऐसे है जो वर्तमान में चल रहे है



TRAI द्वारा जारी पोर्टल से क्या लाभ ले सकते है

  1. ऐसे उपभोक्ता  जिनके नाम पर नौ से अधिक कनेक्शन है उन्हे SMS द्वारा सूचित किया जाएगा।
  2. इस पोर्टल के माध्यम से पता किया जा सकता है।की आपके आधार कार्ड में कितने नंबर रजिस्टर्ड है 
  3. इसके अलावा आप यह भी जान पाएंगे की कितने नंबर एक्टिवेट है ।और कितने नंबर रजिस्टर है।

How many sim card can I buy in india

 Telecom Regulatory Authority of India यानि TRAI के मुताबिक एक आधार कार्ड पर अधिकतम 18 सिम कार्ड निकाल जा सकते है। स्कैमर कई बार आधार कार्ड का दुरुपयोग कर आपके कार्ड से फर्जी सिम निकला लेते है।इससे बचने का सही तरीका है कि आप ऑनलाइन चेक कर उसे बंद करवा ले।


टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी ट्राई के अनुसार एक आधार कार्ड पर अधिकतम 18 SIM Card निकाले जा सकते है।पहले एक आधार कार्ड से 9 SIM Card निकाले जाने का नियम था। बाद में बढ़कर 18 कर दिया।लेकिन सारे सिम कार्ड एक ही ऑपरेटर के नही ले सकते आपके आधार कार्ड से किसी और ने तो सिम नही खरीदी , इसका online पता किया जा सकता है। अगर आप कोई सिम उपयोग नही करते तो उसको ऑनलाइन बंद भी करवा सकते है।




आपके नाम पर चल रहे फर्जी सिम कैसे ब्लॉक करे/Block SIM Card

यदि आप यह जानना चाहते है कि आपके नाम कितने सिम कार्ड रजिस्टर है तो आपको DEPARTMENT OF TELECOMMUNICATION(DOT) के पोर्टल पर जाना होगा। उसके लिए सबसे पहले Telecom Analitics For Froud Management and consumer (TAFCOP) कि official website में जाना होगा।


Mobile details





1.कंप्यूटर या मोबाइल के ब्राउजर में जाए ।टाइप करे  https://www.tafcop.dgtelecom.gov.in वेबसाइट को ओपन करे।

 
2. दिए गए बॉक्स में मोबाइल नंबर Enter करें।Mobile Number डालने के बाद आपको एक OTP मिलेगा। इसको verify कर ले।फिर आपको आपके नंबर से लिंक सभी मोबाइल नम्बर की जानकारी यहा मिल जायेगी।

 
3.यदि आपको लगता है की आपके आईडी में किसी नंबर को गलत तरीके से जारी किया गया है।तो आप उसे बंद करवाने की Request भीं दर्ज करवा सकते है।इसके लिए आपको Unauthorised mobile number के सामने Report और Block के Option में Click करना होगा।

 
4.वेबसाइट के अनुसार ये सर्विसेस कुछ Selected State जैसे Andra Pradesh, Kerala, Rajasthan, Telangana,Jammu and Kashmir,Meghalay,Tripura,Mijoram, Arunachal Pradesh, और Nagaland के उपभोक्ताओं के लिए उपलब्ध है।




FAQ /Questions & Answer

1.एक व्यक्ति के नाम पर कितने सिम कार्ड लिए जा सकते है ?

 टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी TRAI के मुताबिक एक आधार कार्ड से 9 से लेकर 18 SIM Card  लिए जा सकते है।

2. फर्जी सिम को कैसे बंद करे? 

 फर्जी सिम को ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से बंद किया जा सकता है।


3.ऑनलाइन से कौन सी company के सिम कार्ड चेक कर सकते है?

 लगभग सभी सिम कार्ड कंपनी के सिम का स्टेटस देख सकते है।

4.यह सेवा किन राज्यो में शुरू की गया है।

आधार कार्ड के माध्यम से मोबाइल नंबर लिस्ट पता करने के सुविधा वर्तमान में selected State जैसे Andra Pradesh, Kerala, Rajasthan, Telangana,Jammu and Kashmir,Meghalay,Tripura,Mijoram, Arunachal Pradesh, और Nagaland के उपभोक्ताओं के लिए है।


5.TRAI का FULL  फॉर्म क्या है ?

TRAI का फुल फॉर्म है TELECOM REGULATORY AUTHORITY OF INDIA.

6.TRAI क्या है? What Is TRAI ?

TRAI भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण है, जो कि भारत के Telecom संबंधी नियमो का संचालन करती है।


Conclusion

यदि आपके यह लेख पसंद आया हो तो Share जरूर करे ।अभी यह सुविधा कुछ ही राज्यो में उपलब्ध है जल्दी ही सारे राज्यो में उपलब्ध करवा दी जाएगी।
Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url