Web Developer Kaise Bane - वेबसाइट डेवलपर कैसे बनें। योग्यता।कोर्स। सैलरी पूरी जानकारी

यदि आप अपना कैरियर कंप्यूटर टेक्नोलॉजी(Computer Technology) और इंटरनेट (Internet) की दुनिया में बनाना चाहते है। तो Web Developer Course के बारे में सुना होगा। वेब डेवलपर बन कर आप अपना कैरियर अच्छा बना सकते है। आज के लेख में आपको Web Developer Kaise Bane के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी वो भी हिन्दी में आज कल हर कोई अपना व्यापार या धंधा सबकुछ ऑनलाइन(Online) लाना चाहते है। क्योंकि ऑनलाइन के माध्यम से आप कोई भी प्रोडक्ट को आप बेच सकते है। आप किसी भी विषय में जानकारी दे सकते है। बहुत से कॉलेज सरकारी संस्थाएं वेबसाइट के माध्यम से लोगो को जानकारी उपलब्ध कराती है। इसलिए समय के साथ साथ बेब डेवलपर की मांग बढ़ती जा रही है। इस फील्ड में सैलरी भी अच्छी मिलती है।

How To Become web developer


यदि आप web Developer बनना चाहते है तो यह Best Career Option है। इसके लिए आपको Web Page बनाने के लिए लैंग्वेज सीखनी पड़ेगी जैसे HTML,Java,CSS, SQL PHP, तो आज आपको Web Developer Kaise Bane के बारे में विस्तार से जानकारी दूंगी। वैसे इस, वेबसाईट की डिजिटल दुनिया में website Designing एक बेहतरीन कैरियर ऑप्शन है। आप web Developer बनने के लिए 12वी के बाद कोर्स कर सकते है। तो आज इसी के बारे में जानकारी दी जाएगी की web Developer Kaise Bane? यदि जानना चाहते है की website devepoer banne ke liye kya kare? तो यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़े।


वेब डेवलपर क्या है।

यदि आप वेबसाइट की दुनिया में अपना भविष्य बनाना चाहते है। तो यह आपके लिए जानना बेहद जरूरी हो जाता है की वेब डेवलपर क्या है (What is web Developer) तो आपको बता दू की वेब डेवलपर वह होता है जो वेबसाइट को डिजाइन करता  है और उसकी देखभाल करता है। वेब डेवलपर वेबसाइट बनाने के लिए HTML,JAVA,CSS जैसी कंप्यूटर लैंग्वेज(Computer Language) से कोडिंग कर वेबसाइट बनाते है। साथ ही सर्वर साइट (Server Site) में PHP,ASP NET PYTHON,NODE.JS का उपयोग करके वेबसाइट बनाते है।  वेब डेवलपर वेबसाइट की Theme या टेम्पलेट (Template) को डिजाइन करते है। एक डेवलपर वेबसाइट का डेटाबेस(Data Base) तैयार करता है। साथ ही सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग,एवम Domain,Hosting , को मैनेज(Manage) करता है। यह सब काम कोडिंग(Coding) के द्वार किया जाता है। क्लाइंट और सर्वर के बीच कम्युनिकेशन (Communication) के लिए http या https (S For Secure) का उपयोग किया जाता है। http का फुल फॉर्म Hyper Text Transfer Protocol होता है 




वेब डेवलपर के प्रकार Types of Web Developer

Font End Development

फ्रंट एंड डेवलपमेंट से मतलब है वेबसाइट का फ्रंट पेज (Front Page) जैसे की आप कोई वेबसाइट को ब्राउजर में खोलते है ।तो आपको वेबसाइट में जो पहला पेज खुलता है।वह फ्रंट एंड साइड पेज होता है। इसमें वेबसाइट का Theme,Design किया जाता है। जैसे Menu,Footer,Header, किस लोकेशन में डिजाइन करने है। इसके लिए HTML,CSS, और JAVA की मदद से बनाते है।



Back End Deleopment

Back End Deleopment में वेब डेवलपर वेबसाइट में बैक एंड साइट में कोडिंग कर के डिजाइन करते है।जैसे कोई डाटा बेस (Data Base) बनाना, यह वेबसाइट विजिटर( website Visitor को नहीं दिखाई देता है।





Web Developer Eligibility

Web Developer बनने के लिए आपको किसी विशेष शैक्षणिक योग्यता की जरूरत नही है। परंतु यदि आपने 12th  Class में Computer Science या कोई लैंग्वेज जैसे c++ लिया होगा तो वेब Developmnet के Course करने में आपको आसानी रहेगी। वेब डिजाइनिंग (Web Designing) का कोर्स आप 10th के बाद भी कर सकते है।यदि आपको ग्रेजुएशन नही करना तो 12वी के बाद वेब डेवलपर का कोर्स कर सकते है।

1. सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से अच्छे नंबरों से इंटरमीडिएट पास करे।
 
2. आपको अंग्रेजी भाषा में अच्छा ज्ञान होना चाहिए तथा अच्छे नंबर होने चाहिए।

3. बारहवी पास करने के बाद कंप्यूटर साइंस का कोर्स करना पड़ेगा। कंप्यूटर साइंस के कोर्स में कंप्यूटर,वेबसाइट आदि से संबंधित बेसिक जानकारी पढ़ाई जाती है।

4. इसके अलावा वेब डेवलपर बनने के लिए इंटरमीडिएट पास करने के बाद B.Sc कंप्यूटर साइंस B.Com (CS) या BCA से ग्रेजुएशन करना होगा और उसके बाद MCS और MCA का कोर्स कर सकते है।




वेब डेवलपमेंट कोर्स

वेबसाइट बनाने के लिए आपको कुछ कंप्यूटर लैंग्वेज है उनको सीखना पड़ेगा।इसके लिए आपको वेब डेवलपर बनने से पहले इंटरनेट के बुनियादी कांसेप्ट (Concept) को समझना पड़ेगा। वेब डेवलपर बनने के लिए आप डिग्री और सर्टिफिकेट दोनो ही तरह के कोर्स होते है। आप कोई भी कोर्स करके वेब डेवलपर बन सकते है।




1. वेब डेवलपर Web Developer Degre Cousre

आप 12th के बाद B.Sc (CS) से और B.com -Computer Science ,BCA, B.Tech Computer Science Branch से डिग्री कोर्स करके के वेब डेवलपर की डिग्री ले सकते है।





2. Web Developer Ceritificate Course,

Web Developer के सर्टिफिकेट कोर्स करने के लिए आपको 6 महीने से लेकर एक साल तक कोर्स करने में समय लग सकता है 


1. बिगिनर फुल कोर्स HTML,CSS,Java और React.js


2. Professional web Developer Course


3. Website Design and Management Course



Web Development basic Concepts 


HTML

HTML एक कंप्यूटर Language है जिसका उपयोग वेबसाइट बनाने में किया जाता है।HTML जिसे Hyper Text Markup Language के नाम से जाना जाता है। इसमें आपको html Tag से सम्बन्धित कोडिंग बताई जाती है।HTML की खोज Physicist Tim Berners Lee ने 1980 में किया था। html language को सीखने के लिए आप भारत सरकार का ऐप्स SWAYAM को अपने मोबाइल में डाउनलोड कर HTML का कोर्स सिख सकते है ।


CSS

वेबसाइट कोडिंग के Css की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण है। किसी वेबसाइट की रूपरेखा देने के लिए CSS यानी (CasCading Styles sheet) का उपयोग करते है।CSS की मदद से Html Element का Shape और layout control करते हैं।css की मदद से आप किसी वेबसाइट में कलर, मल्टीपल(Multiple)  Web Pages का layout Manage कर सकते है।


Java script

किसी वेबसाइट में java script का बहुत ही महत्वपूर्ण रोल है।यदि किसी टास्क या एक्शन को करवाया जाता है तो वह java कोडिंग के माध्यम से किया जाता है। यह बहुत ही लोकप्रिय कंप्यूटर भाषा है। जो वेब पेज डेवलपमेंट में अहम भूमिका निभाती है।js Client side और Server side उपयोग की जा सकती है ।java script को 1995 में Brendan Eich द्वारा Introduce किया गया था।शुरुवात में इसका नाम Livescript था पर बाद में चेंज कर Java script कर दिया।


PHP

PHP का पूरा नाम Hypertext Pre Processor है।यह पावर फुल सर्वर साइट स्क्रिप्ट लैंग्वेज है।PHp को Run करने के लिए हमें Server की जरूरत होती है।यह 1994 में डेनिश कनाडियन प्रोग्रामर Rasmus Lerdorf द्वारा बनाया गया था। PHP Language का उपयोग Dynamic Website बनाने के लिए किया जाता है। वैसे आपको बता दू वेबसाइट दो तरह की होती है।Static Website और Dynamic Website।कंप्यूटर में PHP को run करने के लिए Xampp या Wampp जैसे Local Host Server की जरूरत पड़ती है।




वेब डेवलपर के कार्य Work For Web Developer

1. वेबसाइट को क्रिएट(Create) करना

2. वेबसाइट मीएंटेंस (Maintenance)करना और वेबसाइट  अपडेट(Update) करना

3. डाटा बेस (Data Base) को मैनेज करना 
 
4. वेबसाइट में error आने पर साल्व (Solve) करना
 
5.Php , या React.js आदि की मदद से बैकेंड(Back End) को मैनेज करना




Web Developer Salary in India

वेब डेवलपर बनने के बाद आप वेबसाइट की थीम या टेम्पलेट डिजाइन कर के ऑनलाइन बेच सकते है। वेब डेवलपर को बहुत सी कंपनीज जॉब के लिए ऑफर (Offer) करती है। वेब डेवलपर का वेतन 20000 से लेकर 40000 तक हो सकता है। यह काम और अनुभव पर निर्भर करता है 




वेब डेवलपर के फायदे Web Developer Benifits

1. वेब डेवलपर बनने पर आप  चाहे तो घर बैठे काम कर सकते है ।उसके लिए आपको कही ऑफिस जाने की जरूरत नही है। आप एक लैपटॉप की मदद से वेबसाइट्स को डिजाइन कर सकते है और अपने काम को Remotely Manage कर सकते हैं।

2. वेब डेवलपर में एक अच्छी खासी सैलरी मिलती है।

3. ज्यादातर कंपनियां अपने आपको डोमेन में लाना चाहती है। ऐसे में कंपनियों को तलाश रहती है। अच्छे वेब डेवलपर की ऐसे में वेब डेवलपर के लिए आसानी से जॉब मिल जाती है।

4. आप चाहे तो Freelancer के रूप में काम कर सकते है।

5. वेब डेवलपर का काम बहुत ही Intresting और मजेदार होता है।

6. Web Developer बन जाने पर आप गवर्नमेंट या प्राइवेट सेक्टर में जॉब पा सकते है।

7. खुद की वेबसाइट बनाकर पैसा कमा सकते है।



वेब डेवलपर के लिए भारत के टॉप कॉलेज

1. लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी 

2. चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
 
3. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU)

4. बेल्लूर प्रौद्योगिकी संस्थान (Vellore Institute of Technology )

5. अन्ना विश्वविद्यालय ।(Anna University)

6. एमिटी यूनिवर्सिटी (Amity University) 

7. दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्याल (Delhi Technology University) 


 

भारत के  कॉलेज में दाखिला कैसे ले

1. वेब डेवलपर का कोर्स करने के लिय यदि आप भारत में कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपको यूनिवर्सिटी या संस्थान की ऑफिशियल वेबसाइट में जा कर रजिस्ट्रेशन। करना होगा।

2. रजिस्ट्रेशन करने के बाद आप अपने यूजर और पासवोर्ड से Login कर के अपने कोर्स का चयन करे।

3. अब आपको अपने क्वालिफिकेशन से संबंधित सारी जानकारी भरकर फॉर्म सबमिट कर दे। और आवश्यक आवेदन शुल्क जमा करे।

4. इसके बाद आपको एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exam) पास करना होगा। और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग करवाना होता है। प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंको के आधार पर मेरिट लिस्ट के आधार पर आपका चयन किया जाएगा।
 
 

FAQ web Developer Kaise Bane से संबंधित


1. HTML का फुल फॉर्म क्या है।

Html का full Form "Hyper Text Markup Language" है।


2. Http का फुल फॉर्म क्या है

Http का Full Form है Hyper Text Transfer Protocol है.


3. वेब डेवलपर की सैलरी कितनी होती है?

 वेब डेवलपर की सैलरी लगभग 20000 से लेकर 40000 तक होती है । यह अनुभव के ऊपर निर्भर करता है। यह तक एक लाख तक सैलरी हो सकती है।


4. वेब डिजाइनिंग का कोर्स कितने दिन का है।

वेब डिजाइनिंग का कोर्स लगभग 6 महीने से लेकर 1 साल तक लग सकता है। वही डिग्री का कोर्स लगभग 3 साल का समय लगता है।




Conclusion

दोस्तो इस लेख को पढ़ कर आपको Web Developer Kaise Bane की जानकारी अच्छे से मिल गई होगी।यदि आपको कोई सवाल या और कुछ जानकारी चाहिए तो आप कमेंट कर सकते है।साथ ही यदि आपको यह लेख पसंद आया हो तो जो आपके दोस्त web Developer Banne की सोच रहे हो तो यह शेयर जरूर करे
Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url